Essay

Vigyapan Ka Humare Jivan Par Parbhao Essay

Vigyapan Ka Humare Jivan Par Parbhao Essay | विज्ञापन का हमारे जीवन पर प्रभाव पर निबंध Vigyapan Ka Humare Jivan Par Parbhao Nibandh | Vigyapan Ka Humare Jivan Par Parbhao Essay in Hindi | Vigyapan Ka Humare Jivan Par Parbhao Hindi Essay भूमिका | Role आज का युग विज्ञापन का युग है । विज्ञापन के …

Vigyapan Ka Humare Jivan Par Parbhao Essay Read More »

किशोरावस्था पर निबंध | Essay on Adolescence

किशोरावस्था पर निबंध | Essay on Adolescence

किशोरावस्था पर निबंध | Essay on Adolescence किशोरावस्था पर निबंध | Essay on Adolescence | Kishor Avastha Par Nibandh | Essay on Adolescence | किशोरावस्था की विशेषताएँ | किशोरावस्था की समस्या | Essay on Adolescence किशोरावस्था पर निबंध | Essay on Adolescence किशोरावस्था बचपन युवा बनने के बीच की अवस्था है।यह वह अवस्था है जब …

किशोरावस्था पर निबंध | Essay on Adolescence Read More »

कंप्यूटर | Computer

कंप्यूटर | Computer कंप्यूटर ऐसे यांत्रिक मस्तिष्क को का रूपात्मक और समन्वयात्मक योग तथा गुणात्मक घनत्व गति से न्यूनतम समय में श्रुटिहीन गणना कर सके। कंप्यूटर आज के युग की अप्रिहाय आवश्यकता बन गया है। देश में सर्वत्र दफ्तरों, बैंकों, व्यावसायिक प्रतिष्ठानों, रेलवे आदि में कंप्यूटर का उपयोग बहुत जोरो से हो रहा है। गणितीय …

कंप्यूटर | Computer Read More »

भ्रष्टाचार :

भ्रष्टाचार : प्रस्तावना: हमारे देश में स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद भ्रष्टाचार का बोलबाला हो गया था। बेईमानी, मिलावट, रिश्वतखोरी, भाई-भतीजावाद, गुटबंदी, चार सो बीसी आदि अंगरक्षकों के साथ भ्रष्टाचार महोदय संपूर्ण राष्ट्र मैं निर्बाध विचरण कर रहे हैं। इस भ्रष्टाचार रूपी दानव में भारत को जकड़ लिया है। इस दानों से कैसे छुटकारा मिले ? …

भ्रष्टाचार : Read More »

सामाजिक एवं राष्ट्रीय महत्व पर निबंध | Essay on Social and National Importance

सामाजिक एवं राष्ट्रीय महत्व पर निबंध | Essay on Social and National Importance

सामाजिक एवं राष्ट्रीय महत्व से जुड़े निबंध | Essay on Social and National Importance Essay on Social and National Importance| सामाजिक एवं राष्ट्रीय महत्व पर निबंध | Essay on Social and National Importance in Hindi |सामाजिक एवं राष्ट्रीय महत्व पर निबंध | Essay on Social and National Importancein India | Essay on Social and National …

सामाजिक एवं राष्ट्रीय महत्व पर निबंध | Essay on Social and National Importance Read More »

भारतीय किसान की भूमिका कृषक पर निबंध

भारतीय किसान की भूमिका भारतीय कृषक

भारतीय किसान की भूमिका भारतीय कृषक भारत एक कृषि प्रधान देश है, भारत को अधिकांश जनता गांव में निवास करती है। गांधी जी के शब्दों में भारत का कृषक यघपि बड़ा परिश्रमी है, तो तथापि आज उसकी दशा इतनी अच्छी नहीं है। उसका जीवन बड़ा सहज, सरल तथा कर्मठता से भरा । जिसके जीवन की …

भारतीय किसान की भूमिका भारतीय कृषक Read More »

बेकारी / बेरोजगारी की समस्या

बेकारी / बेरोजगारी की समस्या प्रस्तावना़:आज के विज्ञान में मानव को अनेक क्षेत्रों में अनेक महत्वपूर्ण उपलब्धियां प्रदान की है। उसने मानव जीवन को लगभग हर क्षेत्र में समृद्ध, समुन्नत तथा सुखी बनाने में कोई कसर नहीं रखी है। मगर उसी विज्ञान ने कुछ ऐसी समस्याओं को जन्म दिया है, जिनका हल निकलना असंभव हो …

बेकारी / बेरोजगारी की समस्या Read More »

अच्छा स्वास्थ्य महा वरदान पहला सुख नीरोगी काया |good health greatboon first happiness healthy body

अच्छा स्वास्थ्य महा वरदान पहला सुख नीरोगी काया |good health greatboon first happiness healthy body अच्छा स्वास्थ्य महा वरदान है। अच्छे स्वास्थ्य से ही अनेक प्रकार के सुख सुविधाएं प्राप्त की जाती हैं। जो व्यक्ति अच्छे स्वास्थ्य तथा स्वस्थ शरीर के महत्व को नकार ता है, वह ईश्वर के इस वरदान का निरादर करता है। …

अच्छा स्वास्थ्य महा वरदान पहला सुख नीरोगी काया |good health greatboon first happiness healthy body Read More »

कंप्यूटर - आज के युग की जरूरत पर निबंध | Essay on Computer

कंप्यूटर – आज के युग की जरूरत पर निबंध | Essay on Computer

कंप्यूटर – आज के युग की जरूरत पर निबंध | Essay on Computer भूमिका – कंप्यूटर आज की आवश्यकता आज के युग को विज्ञान का युग या वैज्ञानिक युग की संख्या दी जाए तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी, क्योंकि आज विषय विज्ञान के द्रढ संतभ पर ही टिका है। विज्ञान ने मानव को अनेक …

कंप्यूटर – आज के युग की जरूरत पर निबंध | Essay on Computer Read More »

नवयुवकों पर चलचित्र का प्रभाव

नवयुवकों पर चलचित्र का प्रभाव |Effect of Film on Youth

नवयुवकों पर चलचित्र का प्रभाव|effect of film on youth आज के युग में मनोरंजन का सबसे, बड़ा सस्ता, सुलभ एवं आकर्षक साधन सिनेमा या चलचित्र ही है। आज के व्यस्त मानव के पास इतना समय नहीं है कि वह प्रेक्षागृह में जाकर नाटक आदि देख सके अथवा किसी अन्य साधन से अपना मनोरंजन कर सके। …

नवयुवकों पर चलचित्र का प्रभाव |Effect of Film on Youth Read More »