ग्रामीण कामगार सेतु योजना | Gramin Kamgar Setu Yojana Registration @ kamgarsetu.mp.gov.in 

ग्रामीण कामगार सेतु योजना: ग्रामीण कामगार सेतु योजना मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी द्वारा 8 जुलाई 2020 को प्रवासी मजदूरों, रेहड़ी-पटरी वालों, रेडी, फेरीवालों, रिक्शा चालकों, मजदूरों आदि को लाभान्वित करने के लिए शुरू की गई है। ग्रामीण क्षेत्रों के तैयार लोगों, मजदूरों और प्रवासी कामगारों को नया कारोबार शुरू करने के लिए सरकार की ओर से 10 हजार रुपये बैंक के माध्यम से मुहैया कराए जाएंगे।

दोस्तों हम आपको इस ग्रामीण सड़क विक्रेता ऋण योजना से संबंधित सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया, पात्रता, दस्तावेज आदि इस लेख के माध्यम से प्रदान करने जा रहे हैं, इसलिए हमारे लेख को अंत तक ध्यान से पढ़ें और योजना का लाभ उठाएं।

ग्रामीण कामगार सेतु योजना वित्तीय सहायता

राज्य में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा ग्रामीण कामगार सेतु योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत ग्रामीण श्रमिकों, प्रवासी श्रमिकों, रिक्शा चालकों आदि को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। यह वित्तीय सहायता उन्हें ₹10000 के ऋण के रूप में प्रदान की जाएगी। इस वित्तीय सहायता के माध्यम से मैं अपना खुद का व्यवसाय स्थापित कर सकता हूं। इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए सरकार द्वारा ग्रामीण कामगार सेतु पोर्टल शुरू किया गया है।

अब इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए किसी सरकारी कार्यालय में जाने की जरूरत नहीं है। आप इस योजना के तहत घर बैठे आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। इससे समय और धन दोनों की बचत होगी और व्यवस्था में पारदर्शिता आएगी।

ग्रामीण कामगार सेतु योजना

Name Gramin Kamgar Setu Yojana
Launched by By Chief Minister Shivraj Singh Chouhan
Beneficiary Street vendors in rural areas of the state
Objective Providing loan
Application Process Online
Official website kamgarsetu.mp.gov.in
Go To Home Page Sarkari-yojana.org

ग्रामीण कामगार सेतु योजना का उद्देश्य

  • जैसा कि आप सभी जानते हैं कि पूरे भारत में कोरोना वायरस महामारी का संकट बढ़ता ही जा रहा है.
  • जिसके चलते अभी भी पूरे देश में लॉक डाउन की स्थिति बनी हुई है।
  • जिससे मजदूरों, कामगारों, रेहड़ी-पटरी वालों, रेडी, फेरीवालों, रिक्शा चालकों का रोजगार ठप हो गया है। इन्हीं सब समस्याओं को देखते हुए मध्यप्रदेश सरकार ने ग्रामीण कामगार सेतु योजना शुरू की है।
  • इस योजना के माध्यम से सरकार ग्रामीण क्षेत्रों के तैयार लोगों, प्रवासी मजदूरों को अपना खुद का व्यवसाय स्थापित करने के लिए बैंक के माध्यम से ऋण प्रदान करेगी।
  • जिससे वेज अपना रोजगार शुरू कर सके।
  • मध्यप्रदेश विकास एवं आवास विभाग द्वारा कामगार सेतु पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध कराना। राज्य के नागरिक जो अपना व्यवसाय बंद होने के कारण बेरोजगार हो गए हैं।
  • वे फिर से अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता ऋण योजना का क्रियान्वयन

  • ग्रामीण कामगार सेतु योजना के तहत ऋण राशि पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दी जाएगी।
  • जो आवेदन करने के 30 दिनों के भीतर आवेदक को उपलब्ध करा दी जाएगी।
  • इस योजना के तहत सरकार ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग को शासी निकाय बनाया है।
  • ताकि आवेदकों की सही पहचान हो सके और कोई भी व्यक्ति गलत तरीके से कर्ज न ले सके।
  • कलेक्टर को नोडल अधिकारी बनाया गया है।
  • सभी विक्रेता जो इस योजना के तहत ऋण प्राप्त करना चाहते हैं
  • आप हमारे द्वारा प्रदान की गई स्टेप बाई स्टेप प्रक्रिया का पालन करके स्वयं आवेदन कर सकते हैं या कियोस्क के माध्यम से भी आवेदन सफलतापूर्वक किया जा सकता है।
  • सरकार ने ग्राम पंचायत और जनपद पंचायत कार्यालयों में भी आवेदन की सुविधा उपलब्ध करायी है.

ग्रामीण कामगार सेतु योजना सांख्यिकी

कुल पंजीकृत 1415435
कुल सत्यापित 881946
कुल स्वीकृत 785180
कुल जारी प्रमाण पत्र 642212

ग्रामीण कामगार सेतु योजना का क्रियान्वयन

  • ग्रामीण कामगार सेतु योजना के तहत पंजीकरण के 30 दिनों के भीतर बैंक द्वारा ऋण स्वीकृत किया जाएगा।
  • यह मंजूरी पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दी जाएगी।
  • इस योजना में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग को भी जोड़ा गया है।
  • ताकि आवेदकों की सही पहचान हो सके। इससे कोई भी व्यक्ति गलत तरीके से कर्ज नहीं ले पाएगा।
  • हर जिले में नोडल अधिकारी कलेक्टर नियुक्त किया गया है।
  • जो इस योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा करेगी।
  • आप भी इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं।
  • आप सीएससी केंद्र के माध्यम से भी आवेदन कर सकते हैं। आप ग्राम पंचायत और जनपद पंचायत कार्यालय में भी आवेदन कर सकते हैं।

मध्य प्रदेश ग्रामीण सड़क विक्रेता ऋण योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ मध्यप्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के रेहड़ी-पटरी वालों (रेडी वेंडर, रेहड़ी-पटरी वाले, साइकिल विक्रेता, ठेले वाले) को ही प्रदान किया जायेगा।
  • मध्य प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के रेहड़ी-पटरी वालों को सरकार द्वारा अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए बैंक के माध्यम से 10,000 रुपये का ऋण प्रदान किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री ग्रामीण स्ट्रीट वेंडर ऋण योजना के तहत ब्याज की पूरी राशि मध्य प्रदेश सरकार द्वारा वहन की जाएगी।
  • ग्रामीण प्रवासी कामगारों को स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरएसटी) के माध्यम से उद्यमिता विकास (ईडीपी) प्रशिक्षण दिया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ग्रामीण कामगार सेतु योजना और “ग्रामीण कामगार सेतु पोर्टल” का शुभारंभ किया।
  • इस योजना में शहरी क्षेत्रों के रेहड़ी-पटरी वालों की तरह अब ग्रामीण क्षेत्रों के रेहड़ी-पटरी वालों को भी बैंकों से 10 हजार की कार्यशील पूंजी उपलब्ध कराई जाएगी।

ग्रामीण सड़क विक्रेता ऋण योजना के लाभार्थी

  • हेयर ड्रेसर
  • बजरा खींचने वाला
  • साइकिल रिक्शा चालक
  • कुम्हार
  • साइकिल और मोटरसाइकिल यांत्रिकी
  • बढई का
  • ग्रामीण कारीगर
  • बुनकरों
  • कपड़े धोने वाले पुरुष
  • दर्जी
  • कार्यकर्ता बोर्ड
  • आइसक्रीम विक्रेता
  • फल विक्रेता
  • समोसा और कचौरी विक्रेता
  • मुर्गी – अंडा विक्रेता
  • बुनाई करने वाला व्यक्ति
  • कपड़े धोने वाला व्यक्ति
  • प्रवासी मजदूर
  • सड़क विक्रेता
  • तैयार पेडलर्स
  • रिक्शा चालक
  • श्रम आदि

ग्रामीण कामगार सेतु योजना के दस्तावेज (पात्रता)

  • आवेदक ग्रामीण क्षेत्र मध्य प्रदेश का निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के तहत केवल रेहड़ी-पटरी वाले (तैयार वाला, साइकिल वाला, ठेला) आदि का ही भुगतान किया जाता है।
  • आवेदक की आयु 18 /55 वर्ष b/w होनी चाहिए।
  • जाति बंधन नहीं होने के कारण किसी भी जाति के लोग आवेदन कर सकते हैं।]
  • किसी भी शैक्षणिक योग्यता के आवेदक पात्र
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पते का सबूत
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

ग्रामीण कामगार सेतु योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • ग्रामीण कामगार सेतु योजना आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा ।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • रजिस्टर के लिए लिंक पर क्लिक करना होगा ।
  • इसके बाद एक नया पेज खुलेगा जिसमें अपना मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • अब आपको गेट ओटीपी लिंक पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपना ओटीपी डालना होगा।
  • आपको जिला, प्रखंड और रोजगार में स्ट्रीट वेंडर का चयन करना होगा।
  • सबमिट बटन पर क्लिक करना है।
  • अगर मोबाइल नंबर बदलना चाहते हैं तो रीसेट बटन पर क्लिक कर सकते हैं।
  • इसके बाद एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपना आधार नंबर और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • अब आपको चेक बॉक्स पर टिक करना है।
  • इसके बाद मोबाइल पर आए ओटीपी को ओटीपी बॉक्स में डालना है।
  • इस तरह आपका eKYC वेरिफिकेशन हो जाएगा।
  • अब आपका आधार विवरण स्क्रीन पर खुल जाएगा।
  • आधार के विवरण की पुष्टि करनी होगी और नेक्स्ट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपनी समग्र आईडी दर्ज करनी होगी और गेट मेंबर पर क्लिक करना होगा।
  • अब परिवार के सभी सदस्यों की जानकारी खुल जाएगी।
  • अब व्यवसाय विवरण दर्ज करने के लिए नेक्स्ट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपने द्वारा भरी गई सभी जानकारियों की पुष्टि करनी होगी और सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह ग्रामीण कामगार सेतु योजना के तहत आवेदन कर सकेंगे।
  • अब एक एसएमएस मिलेगा जिसमें रेफरेंस नंबर होगा।
  • केवल एक नंबर को संभाल कर रखने की जरूरत है।

ग्रामीण श्रमिकों के लिए पोर्टल लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • अब पहले ग्रामीण कामगार सेतु योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • आपको लॉगिन के लिए लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • आपको लॉगइन बटन पर क्लिक करना है।

आवेदन अद्यतन प्रक्रिया

  • पहले ग्रामीण कामगार सेतु योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको Update link पर क्लिक करना है
  • आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपना मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • अब गेट ओटीपी के लिंक पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको ओटीपी डालना होगा।
  • अब सबमिट बटन पर क्लिक करना है।
  • आपके सामने आपका आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • अब एडिट बटन पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद आप आवेदन पत्र में जो भी जानकारी अपडेट करना चाहते हैं उसे अपडेट कर सकते हैं।
  • जानकारी अपडेट करने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह आप एप्लिकेशन को अपडेट कर पाएंगे।

डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

  • पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज परडैशबोर्ड के लिंक पर क्लिक करना है
  • आपके सामने डैशबोर्ड खुल जाएगा।

उपयोगकर्ता मैनुअल देखना

  • पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको यूजर मैनुअल के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक यूजर मैनुअल पर क्लिक करते हैं सामने खुल जाएगा।
  • जैसे ही आप लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने यूजर मैनुअल खुल जाएगा।

उपयोगकर्ताओं के लिए निर्देश (बैंक उपयोगकर्ता)

निम्नलिखित सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए एसआरएलएम टीम को kamgarsetu@gmail.com पर एक ईमेल भेजना होगा।

  • नई उपभोक्ता आईडी बनाने के लिए।
  • शाखा पासवर्ड रीसेट करने के लिए।
  • सिस्टम में कोई नई शाखा जोड़ने के लिए।
  • गुम शाखा/आईएफएससी कोड की पहचान करना।

नोट: इन सभी सुविधाओं को पोर्टल पर जोड़ने का अधिकार केवल एसआरएलएम टीम के पास है।

हेल्पलाइन नंबर

हमने इस लेख में आपको ग्रामीण कामगार सेतु योजना से जुड़ी सभी जानकारी उपलब्ध कराई है। आप हमारे द्वारा दी गई जानकारी का पालन करके आवेदन कर सकते हैं। अगर आपको कोई समस्या आ रही है तो सरकार द्वारा दिए गए टोल फ्री नंबर पर संपर्क कर सकते हैं जो इस प्रकार है।

  • हेल्पलाइन नंबर: 0755-2700800, 181

Leave a Comment

Your email address will not be published.